Breaking News

bhim army : मौलाना कलीम सिद्दीक़ी की गिरफ्तारी के विरोध में शाहीनबाग़ में भीम आर्मी का प्रदर्शन

bhim army : दिल्ली। इस्लामिक स्कॉलर मौलाना कलीम सिद्दीक़ी की गिरफ्तारी का पुरे देश में जबर्दश्त विरोध चल रहा है। लोगों का आरोप है कि सियासती पार्टियां अपने फायदे के लिए मुसलमानों का शोषण और उन पर लगातार अत्याचार कर रहे हैं। गौरतलब है की २२ सितंबर २०२१ को मौलाना कलीम सिद्दीक़ी को यूपी एटीएस ने मेरठ जाते समय रस्ते से हिरासत में ले लिया था। आरोप लगाया जा रहा है कि मौलाना लोगों का धर्म परिवर्तन करवाते थे जिसके लिए उनेह दूसरे इस्लामिक मुल्कों से फंडिंग होती है लेकिन अभी तक पुलिस मौलाना के खिलाफ अदालत में कोई सुबूत नहीं पेश कर पायी है। अदालत ने मौलाना को १४ दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

bhim army : लोगों का आरोप है कि जब भारतीय संविधान का आर्टिकल २५ भारत के हर नागरिक को धार्मिक आज़ादी का हक़ देता है तो फिर धर्म परिवर्तन पर इतना बवाल क्यों है ? जबकि मौलाना के गांव के पड़ोसी हिन्दुओं का कहना है कि हम लोग सैकड़ों साल से यही रह रहे हैं लेकिन हमें कभी किसी ने हमें धर्म परिवर्तन के लिए न तो दबाव बनाया और न ही किसी तरह का प्रलोभन दिया। गांव वालों का कहना है कि मौलाना को राजनैतिक मुहरा बनाया गया है, उनके ऊपर लगाया गया सारा आरोप बेबुनियाद है।

bhim army : मौलाना कलीम की गिरफ्तारी का देश भर में विरोध प्रदर्शन चल रहा है। आज जुमे की नमाज के बाद दिल्ली के शाहीन बाग़ में लोगों ने हाथों में तख्तियां लेकर यूपी सरकार की तानाशाही रवैय्या के खिलाफ नारेबाजी किया। शाहीन बाग़ में इस विरोध प्रदर्शन का आयोजन भीम आर्मी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष हिमांशु वाल्मीकि के निर्देशन में प्रदेश उपाध्यक्ष मोहम्मद समीर और विधानसभा अध्यक्ष बाबर खान के नेतृत्व में किया गया। कार्यक्रम में हजारों लोगों ने हिस्सा लिया। Update by- KD Siddiqui, Email-editorgulistan@gmail.com

Leave a Reply