Breaking News

Delhi News : सोशल मीडिया पर उप-राज्यपाल कार्यालय सबसे ज़्यादा सक्रिय, सीएम कार्यालय फ़िसड्डी

Delhi News : दिल्ली। नागरिकों की समस्याओं के समाधान के लिए अलग – अलग विभाग भले ही बनाये गए हैं लेकिन फिर भी दिल्ली में शिकयतों के निवारण में होने वाली देरी से लोग असंतुष्ट दिखाई दिए।अगर हम सोशल मीडिया के माध्यम से जवाबदेही की बात करें तो दिल्ली के उप राज्यपाल का कार्यालय सबसे ज्यादा सक्रिय है। नागरिकों का कहना है कि ट्वीटर के माध्यम से जो लोग एलजी को शिकायत करते हैं, तत्काल उनका जवाब तो दिया ही जाता है, शिकायतकर्ताओं से फोन करके फीडबैक भी लिया जाता है। ज़्यादातर मामलों में शिकायतकर्ताओं को एलजी कार्यालय की कार्यवाही से संतुष्ट पाया गया है।

Delhi News : नागरिकों का कहना है कि विभाग हमारी शिकायतों को नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन वही शिकायत जब एलजी कार्यालय के द्वारा जाती है तो उसका निवारण प्राथमिकता के आधार पर किया जाता है।

Delhi News : जहाँ दिल्ली के उप राजयपाल कार्यालय की कार्यवाही से नागरिक संतुष्ट दिखे ,वहीं दिल्ली सरकार के ट्वीटर हैंडल से शिकायतकर्ताओं को कोई जवाब नहीं मिलता है। जिसके कारण लोगों में निराशा दिखाई दी। दिल्ली के नागरिकों का आरोप है कि सोशल मीडिया एक सरल माध्यम है जिसके द्वारा हम अपनी शिकायत सरकार तक पहुंचा सकते हैं लेकिन सोशल मीडिया का उपयोग सिर्फ अपनी बात कहने के लिए उपयोग कर रही है, यही हाल दिल्ली सरकार के मंत्रियों, विधायकों और विभागीय कर्मचारियों एवं अधिकारीयों का भी है।

केजरीवाल सरकार की चुप्पी के कारण दिल्ली में भ्र्ष्टाचार और अतिक्रमण बढ़ा है, अगर दिल्ली सरकार नागरिकों की समस्याओं का त्वरित निवारण और भ्र्ष्ट लोगों के खिलाफ कार्रवाई करती तो इससे विभागीय अधिकारीयों में खौफ होता लेकिन सरकार की चुप्पी के कारण भ्र्ष्ट अधिकारीयों के हौसले बुलंद हैं और सरकार की छवि धूमिल हो रही है। दिल्ली के नागरिकों ने सोशल मीडिया पर नागरिकों की शिकायतों के निपटारे के मामले में केजरीवाल सरकार को फिसड्डी बताया है। Post By- KD Siddiqui, Editorgulistan@gmail.com