Skip to Content

Bhim Army : उन्नाव पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद गिरफ़्तार

Bhim Army : उन्नाव पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद गिरफ़्तार

Closed

Bhim Army : लखनऊ। उन्नाव पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे भीम आर्मी प्रमुख आज़ाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंदरशेखर आज़ाद को कानपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गौरतलब है कि 18 फरवरी 2021 यूपी के जिला कानपुर के थाना असोहा के बबुरहा गांव के दलित समाज की तीन लड़कियां गांव से गायब हो गयी थी। बाद में गांव के बाहर जंगल में लड़कियों बंधक बना कर छोड़ दिया गया था। बरामद तीनों लड़कियों को आनन फानन में अस्पताल पहुँचाया गया जहाँ डॉक्टरों ने दो लड़कियों को मृत घोषित बताया और एक लड़की की हालत गंभीर बताया गया था।

Bhim Army : दो दलित लड़कियों की संदिघ्ध मौत की खबर से शासन और प्रशासन में खलबली मच गयी। संदिघ्ध मौत की खबर मीडिया में आने के बाद से भीम आर्मी (भारत एकता मिशन ) हरकत में आया और संस्था के संस्थापक चंद्रशेखर आज़ाद ने मांग किया कि ज़िंदगी और मौत से जूझ रही तीसरी लड़की को तत्काल एयर लिफ्ट करके दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती किया जाये जिससे की उसकी जान की रक्षा हो सके क्योंकि वही लड़की घटना की चश्मदीद गवाह है।

East Delhi News : त्रिलोकपुरी विधानसभा के वार्ड 002E से आज़ाद समाज पार्टी ने विक्की पारचा को बनाया उम्मीदवार

Bhim Army : चंदरशेखर आज़ाद की मांग के बावजूद यूपी शासन ने लड़की को इलाज के लिए दिल्ली नहीं भेजा। इस समय पीड़ित लड़की का इलाज कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में चल रहा है लेकिन भीम आर्मी प्रमुख इससे संतुष्ट नहीं हैं। चंद्रशेखर आज़ाद ने शंका ज़ाहिर किया है कि पीड़ित लड़की की हत्या हो सकती है क्योंकि वही एक मात्र गवाह है।

Related News Bhim Army : निजीकरण और चोर दरवाजे से नौकरी देने के ख़िलाफ़ 7 मार्च को सदन का घेराव करेगी भीम आर्मी – चन्द्रशेखर आज़ाद

Bhim Army : आज भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद पीड़ित लड़की से मिलने के लिए कानपूर जा रहे थे लेकिन यूपी पुलिस ने गंगा बैराज पर ही रोक लिया। इसकी जानकारी मिलते ही लखनऊ और कानपुर के भीम आर्मी के सदस्य भारी संख्या में वहां पहुँच गए और नारेबाजी शुरू कर दिया। मामले को गर्म होते देख पुलिस ने भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद को हिरासत में ले लिया। भीम आर्मी प्रमुख के हिरासत में लिए जाने के बाद भीम आर्मी के सैकड़ों समर्थक वहीं धरने पर बैठ गए और चंद्रशेखर आज़ाद की रिहाई की मांग कर रहे हैं. Post By- KD Siddiqui, Email-editorgulistan@gmail.com

Previous
Next