Skip to Content

Bhim Army : दिल्ली नगर निगम के उपचुनाव में अपने प्रत्याशी उतारेगी आज़ाद समाज पार्टी (भीम आर्मी)

Bhim Army : दिल्ली नगर निगम के उपचुनाव में अपने प्रत्याशी उतारेगी आज़ाद समाज पार्टी (भीम आर्मी)

Closed
by December 21, 2020 Delhi News

Bhim Army : पूर्वी दिल्ली। दिल्ली नगर निगम के उपचुनाव में आज़ाद समाज पार्टी (भीम आर्मी) ने अपने प्रत्याशी उतारने का निर्णय लिया है। आज पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी में सन्गठन विस्तार के लिये पहुंचे भीम आर्मी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष हिमांशु वाल्मीकि ने इसकी घोषणा किया। हिमांशु वाल्मीकि ने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और भीम आर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर आज़ाद साहब के निर्देश पर पार्टी ने दिल्ली के उपचुनाव में हिस्सा लेने का निर्णय लिया। आज हिमांशु वाल्मीकि द्वारा त्रिलोकपुरी से विक्की परचा को विधानसभा अध्यक्ष बनाया गया है, साथ विधानसभा के अन्य पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र दिया गया।

Bhim Army : अभी पार्टी की नजर पूर्वी दिल्ली की त्रिलोकपुरी विधानसभा के वार्ड 2E, कोण्डली विधानसभा के कल्याणपुरी वार्ड 8E, सीलमपुर विधानसभा के चौहान बांगर वार्ड 41E पर है। जहां से पार्टी ने अपने उम्मीदवार उतारने का निर्णय लिया है।
ग़ौरतलब है चन्द्रशेखर आज़ाद की मेहनत और बहुजन समाज को जोड़ने के महाभियान से अभी तक देशभर में लगभग दस करोड़ लोग भीम आर्मी से जुड़ चुके हैं। भारत के लगभग हर राज्य में भीम आर्मी के लोग पूरी निष्ठा, त्याग और समर्पित हो कर कार्य कर रहे हैं।

Bhim Army : सामाजिक और राजनैतिक बदलाव के इस मिशन पर गली गली, गांव गांव से शहर तक बहुजन समाज के लोंगो के साथ होने वाले अन्याय, अत्याचार के ख़िलाफ़ भीम आर्मी मुखर हो कर आवाज़ बुलंद कर रही है। संस्था के प्रमुख चन्द्रशेखर आज़ाद पीड़ितों को न्याय दिलवाने के लिये उनके साथ मजबूती के साथ खड़े दिखाई दे रहे हैं। CAA, NRC, दिल्ली दंगा, हाथरस ब्लात्कार, आज़मगढ़ में दलित किसान की हत्या हो या फिर किसान आंदोलन हर जगह चन्द्रशेखर आज़ाद के पहुंचने से लोग प्रभावित हो रहे हैं और चन्द्रशेखर आज़ाद को भविष्य का प्रधानमंत्री देख रहे है।

Bhim Army : अपने नेता के त्याग और समर्पण को देख कर भीम आर्मी के सदस्यो में गजब का उत्साह और जुनून दिखाई दे रहा है। नवम्बर 2020 में आज़ाद समाज पार्टी का रजिस्ट्रेशन हुआ और नवम्बर में ही यूपी के बुलन्दशहर उपचुनाव में पार्टी ने अपना उम्मीदवार उतार दिया। बुलन्दशहर उपचुनाव में आज़ाद समाज पार्टी ने भीम आर्मी के समर्पित समर्थकों की मेहनत से पार्टी देश की सबसे बड़ी राजनैतिक पार्टी कांग्रेस पार्टी को पीछे धकेल कर तीसरा स्थान हासिल कर लिया, जिससे पार्टी और कार्यकर्ताओं में उत्साह है।
यूपी के उपचुनाव के नतीजों से उत्साहित आज़ाद समाज पार्टी ने दिल्ली के भी उपचुनाव में किस्मत आजमाने का फैसला किया है। कुछ महीनों पहले बनी पार्टी के बढ़ते जनाधार को देखते हुये अनुमान लगाया जा रहा है कि दिल्ली नगर निगम के उपचुनाव में आज़ाद समाज पार्टी का कुछ सीटों पर विजयी होना लगभग तय है।

Bhim Army : दिल्ली में आज़ाद समाज पार्टी एक विकल्प के रूप में उभर कर आई है और लोंगो ने उसे हाथों हाथ उठा लिया है। CAA, NRC, दिल्ली साम्प्रदायिक दंगे और कोरोना के दौरान केजरीवाल का रवैय्या मुसलमानो के साथ भेदभावपूर्ण रहा जिसके कारण दिल्ली के मुसलमानो ने आम आदमी पार्टी से किनारा करना शुरू कर दिया है और बड़ी संख्या में लोग आज़ाद समाज पार्टी से जुड़ रहे हैं। दिल्ली में सबसे ज्यादा मतदाता अनुसूचित जाति का है फिर मुसलमानो का वोट है, बावजूद इसके केजरीवाल सरकार ने ताक़तवर पद दिल्ली का उपमुख्यमंत्री ठाकुर को और राज्यसभा भी ठाकुर और बनिया को देकर अपनी जातिवादी मानसिकता को जगजाहिर किया है। जिससे नाराज एससीएसटी और मुस्लिम मतदाता चन्द्रशेखर आज़ाद की आज़ाद समाज पार्टी से जुड़ रहे हैं। जिसकी जितनी भागीदारी, उसकी उतनी हिस्सेदारी को चरितार्थ करने के लिये उत्साहित और संकल्पित दिखायी दे रहा है।
Post By: KD Siddiqui
EMail: editorgulistan@gmail.com

Previous
Next