Skip to Content

East Delhi News : कल्याणपुरी में भीम आर्मी की दस्तक, भारी संख्या में लोगों ने ग्रहण की सदस्यता

East Delhi News : कल्याणपुरी में भीम आर्मी की दस्तक, भारी संख्या में लोगों ने ग्रहण की सदस्यता

Closed
by November 18, 2020 Delhi News

East Delhi News : पूर्वी दिल्ली। आज कोंडली विधानसभा के कल्याणपुरी वार्ड में लोगों ने बड़ी संख्या में भीम आर्मी (भारत एकता मिशन ) की सदस्यता ग्रहण किया। कल्याणपुरी के ब्लॉक 18 इंदिरा कैम्प से आज सदस्य्ता अभियान की शुरुआत हुई। आज इस सदस्य्ता अभियान की शुरुआत भीम आर्मी के दिल्ली प्रदेश अध्य्क्ष हिमांशु वाल्मीकि के द्वारा किया गया। इस अवसर पर हिमांशु वाल्मीकि के साथ दिल्ली प्रदेश के सचिव रमेश चंद्रा, कोंडली विधानसभा अध्यक्ष अभिषेक जाटव, अतर सिंह, केडी सिद्दीक़ी, सोनू राणा मौजूद रहे। इस अवसर पर आशीष कुमार वाल्मीकि (चौटाला) सोमनाथ, सनोज, विक्की, सुमित, सोनू, विकास, रवि, मनोहर लाल, भगत, इश्तेखार मियां, नरेन, अंकित, रिडलान, आर्यन, लाल चन्दर, महेश, समीर, प्यारे लाल, नील कमल, बचन, जाने, विवेक सैफ अली, रीना चौहान और तेजू आदि ने भीम आर्मी की सदस्यता ग्रहण किया।

East Delhi News : देश के बहुजन समाज को संगठित कर के उनके अधिकारों के लिए संघर्ष कर रही संस्था भीम आर्मी की बुनियाद अधिवक्ता चंद्रशेखर आज़ाद (रावण) ने वर्ष 2015 में रखी। भीम आर्मी लगातार बहुजन समाज के लोगों को संगठित करने और उनके अधिकारों की रक्षा के लिए आवाज़ उठा रही है। देश भर में जहाँ कहीं भी किसी कमज़ोर या लाचार से साथ अन्याय या अत्याचार की सूचना मिलती है भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद उनको न्याय दिलाने के लिए पहुँच जाते हैं। अन्याय और अत्याचार के खिलाफ इस आंदोलन में अनेकों बार चंद्रशेखर आज़ाद को जेल भी जाना पड़ा है।

East Delhi News : चंद्रशेखर आज़ाद ने वर्ष 2020 मार्च में आज़ाद समाज पार्टी के नाम से एक राजनैतिक दल बनाने का निर्णय लिया और 14 अक्टूबर 2020 को पार्टी का रजिस्ट्रेशन हो गया। देश भर में चंदरशेखर आज़ाद के साथ कार्य करने के लिए लोग लालयित दिखाई दे रहे हैं। इसी लिए अभी एक महीना पहले बनाई गयी पार्टी के साथ लाखों लोग जुड़ चुके हैं।

East Delhi News : यूपी के बुलंदशहर में हुए उपचुनाव में पार्टी के उम्मीदवार हाजी यामीन ने तीसरा स्थान प्राप्त करके लोगों को चौंका दिया। पहले ही चुनाव में बड़ी संख्या में मिले वोटों से पार्टी का हौसला बुलंद है। अब राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने दिल्ली नगर निगम में उम्मीदवार उतारने का निर्णय लिया है, जिसके मद्देनज़र संगठन को मजबूत करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। आज़ाद समाज पार्टी ने जहाँ यूपी में बसपा का सियासी भविष्य संकट में डाल दिया है वहीं दिल्ली में केजरीवाल की आम आदमी पार्टी के क़िले दरकने शुरू हो गए हैं।

East Delhi News : 2019 में हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद एनआरसी आंदोलन, दिल्ली में हुए साम्प्रदायिक दंगे और कोरोना महामारी के दौरान तब्लीगी जमात को ज़िम्मेदार ठहराने के बाद से केजरीवाल की लोकप्रियता में गिरावट आयी है। दिल्ली का मुस्लिम वोट दूसरे विकल्प की तलाश में है तो एससीएसटी समाज के सामने केजरीवाल का आरएसएस प्रेमी चेहरा अब बेनकाब हो चूका है। भ्र्ष्टाचार उन्मूलन के आंदोलन से साथ सत्ता में आयी केजरीवाल सरकार अपने सात वर्ष के कार्य काल में अपने हर वादे के विपरीत कार्य कर रही है।

East Delhi News : नौकरियों के लिए भटकते दिल्ली के नौजवानों का भविष्य अंधकारमय दिखाई दे रहा है। आम आदमी पार्टी के नेता, पार्षद और विधायक भ्र्ष्टाचार में लिप्त हैं। इस लिए अब दिल्ली की जनता विकल्प के तलाश में है। यही कारण है कि आज़ाद समाज पार्टी के आने से उसके संगठन भीम आर्मी से एससीएसटी और मुस्लिम समाज के लोग बड़ी तादाद में जुड़ रहे हैं। चंद्रशेखर आज़ाद का लोगों के सुख और दुःख में शामिल होना, मजलूमों की आवाज़ बनना लोगों के जुड़ने का एक बड़ा कारण है। राजनीती के जानकारों का मानना है दिल्ली नगर निगम 2022 चुनाव में अगर आज़ाद समाज पार्टी ने अपना खाता खोल दिया तो विधानसभा में पहुँचने से उसे कोई रोक नहीं सकता है। Report By- KD Siddiqui, Email-editorgulistan@gmail.com

Previous
Next