Skip to Content

Atraulia News : पुत्र के दीर्घायु व मंगल कामना के साथ माताओं ने रखा निराजल जीवित्पुत्रिका व्रत

Atraulia News : पुत्र के दीर्घायु व मंगल कामना के साथ माताओं ने रखा निराजल जीवित्पुत्रिका व्रत

Closed
by September 11, 2020 Azamgarh, U.P.

Atraulia News : अतरौलिया (आजमगढ़)। बता दे कि पुत्रों के दीर्घायु व स्वस्थ रखने की मंगल कामना के साथ ब्रती माताओं ने बृहस्पतिवार को पूरा दिन निराजल व्रत रखा। भोर से ही इस व्रत की शुरुआत हो गई तथा देर शाम तक चलती रही। ग्रामीण अंचलों में पूरी आस्था व विश्वास के साथ महिलाओं ने निराजल व्रत रखा, तो वही नगर पंचायत में भी महिलाओं ने निराजल व्रत रख पुत्र उपासना का पर्व जीवित्पुत्रिका बड़े हर्सोल्लास से मनाया।

Atraulia News : ऐसी मान्यता है कि जिन महिलाओं की कामना पूर्ण हो जाती है वह बाजे गाजे के साथ पूजा स्थल पर पहुंचती हैं। ग्रामीण अंचलों से लेकर शहरों तक पूरा वातावरण भक्तिमय माहौल में रहा ,वहीं कुछ मंदिरों में भीड़ भी दिखी। इस बार जीवित्पुत्रिका व्रत को लेकर महिलाओं में खासा उत्साह दिखा, खास बात यह रही कि महिलाओं के द्वारा निराजल व्रत में शारीरिक दूरी का पालन कही नहीं हुवा। जीवित्पुत्रिका व्रत की कथा महाभारत से भी जुड़ी है। अश्वत्थामा ने बदले की भावना से उत्तरा के गर्भ में पल रहे पुत्र को मारने के लिए ब्रह्मास्त्र का प्रयोग किया था, जबकि उत्तरा के पुत्र का जन्म लेना जरूरी था। तब भगवान श्रीकृष्ण ने अपने सभी पुण्य के फल से उस बच्चे को गर्भ में दोबारा जीवन दिया।
Atraulia News
Atraulia News : पुनः जीवन मिलने के कारण उसका नाम जीवित्पुत्रिका रखा गया जो बालक बाद में राजा परीक्षित के नाम से प्रसिद्ध हुआ। वही पुत्र की लंबी उम्र की कामना के लिए नगर पंचायत ही नहीं गांव में भी खूब उत्साह देखा गया। पूरे दिन निराजल व्रत रखने के बाद माताओं ने शाम को पूजन ,अर्चना कर अपने पुत्रों के लंबी उम्र की कामना की। करोना के कारण बहुत सी महिलाओं ने घर में ही पूजा अर्चना की, वहीं जगह-जगह ग्रामीण क्षेत्रों में एकत्र होकर महिलाएं थार में फल, प्रसाद, पूजन सामग्री ,अगरबत्ती आदि को लेकर एक गोलाई में बैठकर ईश्वर की प्रार्थना करते हुए अपने बच्चों की लंबी उम्र की कामना किया। जीवित्पुत्रिका व्रत पर निराजल रखने वाली माताएं केला, सेब ,नारियल ,अगरबत्ती तथा चीनी की बनी हुई मिठाइयां लेकर पूजा स्थल पर पहुंची ,जो देर शाम तक चलता रहा। बाजारों में भी सुबह से लेकर भीड़ देखने को मिली ,फलों की दुकानों पर काफी भीड़ लगी हुई थी जिसकी वजह से पूरे नगर में भीड़ देखी गयी। Report : Rajesh Singh, Emai-editorgulistan@gmail.com

Previous
Next