Skip to Content

Corona Warriors : कोरोना योद्धा सम्मान की असली हक़दार हैं ” आप ” की ज़िला अध्यक्ष अनीता भट्ट

Corona Warriors : कोरोना योद्धा सम्मान की असली हक़दार हैं ” आप ” की ज़िला अध्यक्ष अनीता भट्ट

Closed
  • देह सिवा बरु मोहि इहै सुभ करमन ते कबहूं न टरों। न डरों अरि सो जब जाइ लरों निसचै करि अपुनी जीत करों ॥

Corona Warriors कोरोना महामारी में चल रहे लॉक डाउन में अपनी जान बचाने के लिए जहा लोग अपने – अपने घरों में छिपे हुए हैं, वहीं कुछ लोग अपनी और अपने परिवार की जान को जोखिम में डाल कर दूसरों के प्राणों की रक्षा कर रहे हैं। उनमें से एक हैं आम आदमी पार्टी की महिला विंग की जिला अध्यक्ष अनीता भट्ट। समाज सेवा से राजनीती में आने वाली अनीता भट्ट दिन-रात, सर्दी, गर्मी, धूप और कोरोना वाइरस से बेपरवाह अपने कर्तव्य को पूरा करने में व्यस्त रहती है। पूर्वी दिल्ली की सीमा पर बसे कोंडली विधान में रहने वाली अनीता भट्ट की सेवा पूरी तरह से निष्पक्ष होती है।अनीता भट्ट ने कभी धर्म और जाति को तरजीह नहीं दिया। इनकी निष्पक्ष सेवा का आलम यह है कि इनके समर्थकों में सभी जाति और धर्म के लोग शामिल है। सुबह परिवार की ज़िम्मेदारियों को पूरी करके पैदल ही लोगों की सहायता के लिए निकल पड़ती है। क्षेत्र के लोग अनीता भट्ट को “अनीता बहन जी ” के नाम से सम्बोधित करते हैं। सुबह से ही फोन की घंटी लगातार बजती रहती है और बिना झुंझलाहट के बड़ी शालीनता से सब की बातों को सुनती हैं और उनकों अपने उत्तर से संतुष्ट भी करती है। सिर्फ कोरोना महामारी ही नहीं वर्षों से निरंतर मानव कल्याण के लिए कार्य कर रहीं है अनीता भट्ट। इस समाज सेवा में उनके सामने कई बार अनेकों चुनौतियां आयी है लेकिन उन्होंने सब का डटकर सामना किया है। उनके सेवा करने का यही अंदाज आम आदमी पार्टी को भी पसंद है।

Corona Warriors
लॉक डाउन के दौरान क्षेत्र में रसायन का छिड़काव करती समाज सेवी अनीता भट्ट

Anita Bhatt की निष्पक्ष समाज सेवा और महिलाओं के अधिकारों व उनकी सुरक्षा के लिए संघर्षरत कार्य से प्रभावित हो कर आम आदमी पार्टी ने वर्ष 2013 में पार्टी का सदस्य बना दिया और वर्ष 2017 में कोंडली विधान सभा के घरौली वार्ड से दिल्ली नगर निगम का चुनाव लड़ने के लिए निगम पार्षद का टिकिट दिया। राजनितिक दांव – पेंच और छलकपट से बेखबर सीधी और सरल समाजसेवी गृहणी के सामने यह एक चुनौतीपूर्ण कार्य था लेकिन इस जाबांज महिला ने राजनीति के पुरोधाओं के दांत खट्टे कर दिए, अपनी कार्यकुशलता, सामाजिक अनुभव और कुशल नेतृत्व से यह एहसास दिलाया कि आने वाले समय में अगर पार्टी ने दुबारा अवसर दिया तो अनीता भट्ट के सामने कोई टिक नहीं पायेगा। अनीता भट्ट राजनीती में नई भले ही थीं लेकिन समाज सेवा का लम्बा अनुभव और मजबूत जनसम्पर्क उनके लिए कारगर साबित होता दिखाई दे रहा है। चुनावी प्रचार एवं प्रसार के लिए वह उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और गुजरात तक जा चुकी है।

Corona Warriors
लॉक डाउन के दौरान जरूरतमंदों को राशन पहुँचाती अनीता भट्ट

Anita Bhatt एक समाजसेवी के साथ – साथ एक संस्कारी पत्नी और गृहणी भी है। वह समाज सेवा और राजनीति से साथ साथ परिवारिक ज़िम्मेदारियों का भी बखूबी निर्वाहन कर रही हैं। बच्चों की पढ़ाई और संस्कार में कोई कमी नहीं आने दिया है। इनके इस सम्मानजनक साहसिक कार्य के लिए अभी कुछ दिनों पहले अनेकों समाजसेवी संस्थाओं द्वारा “कोरोना योद्धा सम्मान’ से सम्मानित किया गया है। सुबह घरेलू कामकाज निपटा कर निकल पड़ती हैं लोगों की समस्याओं का समाधान करवाने के लिए। आम आदमी पार्टी ने आप को उत्तराखंड विंग से विधानसभा अध्यक्ष और महिला विंग से जिला अध्यक्ष बनाया हुआ है। अपने दायित्व का निर्वाहन करते हुए लगातार समाज के बीच अपनी पकड़ को मजबूत करती अनीता भट्ट को आज कोंडली विधान सभा में शायद ही कोई होगा जो नहीं जनता होगा। उनकी निष्काम सेवा की सभी सराहना करते रहते हैं। निःस्वार्थ और निःशुल्क विधायक कार्यालय को भी सेवा दे रही अनीता भट्ट के पास सुबह से ही लोगों के फोन आने शुरू हो जाते है। किसी को राशन दिलवाना है, किसी के बच्चे का स्कूल में दाखिला करवाना है तो कोई बीमार है, हर कोई अनीता भट्ट के पास फोन घुमा देता है। अनीता भट्ट के इस कार्य में उनके पति हरीश भट्ट का भी पूर्ण योगदान मिलता है। दोनों पति-पत्नी एक एनजीओ भी चला रहे है, जिसके माध्यम से वह गरीबों के बच्चों की पढ़ाई, बेटियों की शादियां और जनजागरूकता कार्यक्रम के द्वारा लोगों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करती हैं।

Corona Warriors
कोंडली विधान सभा में ज़रूरतमंदों को भोजन बांटती जिला अध्यक्ष अनीता भट्ट

Anita Bhatt आम आदमी पार्टी की महिला विंग की जिला अध्यक्ष हैं लेकिन वह बिना किसी भेदभाव के लोगों की सहायता के लिए सदैव तत्पर रहती हैं। यही कारण है कि अनीता भट्ट के समर्थकों में भारी संख्या में महिलाएं शामिल हैं। अनीता भट्ट से जब यह पूछा गया कि आप परिवार के साथ – साथ यह कैसे संभाल रहीं हैं, तो उन्होंने कहा कि मुझे लोगों की सेवा करके संतुष्टि मिलती है। सुबह 05 बजे उठ कर पूजा – पाठ, घरेलू काम – काज निपटा कर 0 9 से 10 बजे के आस – पास लोगों की समस्याओं के निवारण के लिए निकल पड़ती हूँ। इस कार्य से मुझे संतोष तो मिलता ही है साथ में मुझे ऊर्जा भी मिलती है और लोग मेरा उत्साहवर्धन करते हैं। अनीता ने बताया कि कई बार कठिन परिस्थितियों से भी गुजरना पड़ा है लेकिन जब – जब मैं संकट में आती हूँ लोगों की दुवाएं और आशीर्वाद मेरी राह आसान बना देते हैं। अनीता भट्ट के आत्मबल, निष्ठां, धैर्य और निष्काम सेवा को परखने और समझने के उनके जैसा बनना पड़ेगा। वह ज़मीन पर चलती हैं, ज़मीनी नेता है,अहंकार और अभिमान उनको छू नहीं पाया है। इस लिए उनके पास हर गरीब और बेसहारा अपनी फरियाद लेकर चला आता है। इस उम्मीद से कि वहां से उसको निराशा नहीं मिलेगी। यह असली हक़दार है ” Corona Warriors सम्मान ” के लिए, ऐसे वास्तविक कोरोना योद्धा के ज़ज़्बात और हौसले को सलाम ! Post By : KD Siddiqui, Email- editorgulistan@gmail.com

Previous
Next