Skip to Content

Zee News : फ़र्जी खबरें चला कर देश में नफ़रत और घृणा फैलाने वाले आतंकी Zee News ने माँगा माफ़ी

Zee News : फ़र्जी खबरें चला कर देश में नफ़रत और घृणा फैलाने वाले आतंकी Zee News ने माँगा माफ़ी

Closed
by April 10, 2020 National

Zee News दिल्ली। फर्जी खबरें तैयार करके टीवी पर दुनिया में मुसलमानों को बदनाम करने वाले ज़ी न्यूज़ चैनल ने आज देश से माफ़ी माँग लिया। आज की यह बड़ी खबर है कि ज़ी न्यूज़ ने फर्जी खबर दिखाने के लिए देश से माफ़ी माँगा। जहाँ देश कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है वहीँ देश का एक नामी मिडिया घराना ज़ी न्यूज़ देश में नफरत पैदा करने का लगातार प्रयास कर रहा है। अपने आप को राष्ट्रवादी चैनल बताने वाला ज़ी न्यूज़ आपातकाल के समय में जब देश को कमज़ोर करने का प्रयास कर रहा है तो यह राष्ट्रवादी नहीं बल्कि देशद्रोही चैनल है।

zee news

Zee News गौरतलब है की कोरोना महामारी के समय देश भर में चल रहे लॉक डाउन के दौरान दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज में फंसे तब्लीगी जमात के लोगों के बाहर आने बाद से कोरोना के मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो गयी। उसके बाद से मीडिया ने तब्लीगी जमात को लेकर फर्जी खबरें चलाना शुरू कर दिया। ज़ी न्यूज़ उत्तर प्रदेश के फ़िरोज़ाबाद की फर्जी खबर चलाया जिसके खिलाफ यूपी पुलिस ने तत्काल ज़ी न्यूज़ को नोटिस किया और इस फर्जी खबरें चलाने और अफवाह फैलाने पर तत्काल रोक लगाने की नसीहत दिया, लेकिन बावजूद इसके ज़ी न्यूज़ नहीं सुधरा और जमातियों के खिलाफ फर्जी खबरे चलती रहीं। 09 अप्रेल 2020 को ज़ी न्यूज़ द्वारा खबर प्रसारित की गयी कि अरुणाचल प्रदेश में तब्लीगी जमात के 11 लोग कोरोना पॉजेटिव पाए गए हैं। जबकि अरुणाचल प्रदेश में सिर्फ एक जमाती पोजेटिव मिला था।



Zee News अरुणाचल प्रदेश में जमातियों की फर्जी खबर चलने के बाद अरुणाचल पुलिस ने तत्काल मामले को संज्ञान में लिया और ज़ी न्यूज़ को फर्जी खबर चलाने पर फटकार लगाया। ज़ी न्यूज़ के साथ साथ देश के कई और न्यूज़ चैनल लगातार मुसलमानों की छवि खराब करने के उद्देश्य से फर्जी खबरे चला रहे है। फेक न्यूज़ के बढ़ने से जहाँ देश का बुद्धिजीवी समाज चिंतित है वहीँ सुप्रीम कोर्ट ने भी फेक न्यूज़ पर चिंता व्यक्त किया और गृह मंत्रालय को इसके खिलाफ कार्रवाई करने के सख्त निर्देश दिए हैं। देश के कई राज्यों में मीडिया के बड़े बड़े दिग्गजों के खिलाफ हो रही एफआईआर और जमीयत की याचिका से भयभीत ज़ी न्यूज़ ने देश से माफ़ी मांग कर यह साबित कर दिया कि उसने फर्जी खबर चलाया है। देश भर में चल रहे भारी विरोध और सोशल मीडिया पर फेक न्यूज़ के खिलाफ चल रहे ट्रेंड का असर हुआ और ज़ी न्यूज़ ने आज देश से माफ़ी मांग लिया। ज़ी न्यूज़ जैसे टीवी चैनल द्वारा फेक न्यूज़ दिखाने से लोगों में न्यूज़ चैनलों की विश्वसनीयता पर सवाल खड़ा हो गया है।

Email: editorgulistan@gmail.com

Previous
Next

One commentcomments38

  1. राजकुमार महर्जन

    सार्वजनिक रूपसे माफी माग्ना चाहिए।

  2. Mader chodi ke teri bahan ka bhosra tum ne jiski ijjat Sare Aam uchali hai us ka ijjat ka kiya hoga wo to tumare chainal ke through badnaam ho gaya usse kaise mafi mangoge is baat ka kiya jawab hai tumhare pass batao

  3. Ye chenal news aise dikhata hai mano ek hi paksh ka ho.bjp k siwa isko kuch bolna ni ata or reports aise news dikhate h mano dra rhe ho.tarika he nhi h news kaise dikhani chahiye.tbi tho mera favorite news channel DD1 hai

  4. यह बिल्कुल जरूरी है की हम आम जनता मीडिया के
    सहारे ही देश भर की हालात को समझते है और ऐसा
    ही एक perception लेकर अपनी एक राय बना लेते है
    लेकिन यहाँ मीडिया पिछले 7 वर्षो से क्या सब दिखा रही है अफ़सोस आज हमारा पुरा भारत जाग रहा है और धीरे धीरे कुछ एक सच्चि पत्रकारिता मीडिया के तरफ उन्मुख
    हो रही है। लेकिन अब तक बहुत देर हो चुकी है। उम्मीद है की हालात जल्द ही सुधरेगी। जय हिंद

  5. Hindustan sab ka hai har mazhab ka Hindustani hai in Aman persst Hindustanio ko mil jul ker rhane do plz Mai ty chanalo se binti kerta hu mustakbil Mai kabhi Hindu Musalman Mai nafret Na fhalaye

  6. I think supreme Court should order to close zee news, as this channel is trying to destroy the social harmony.

  7. मैं मानता हूँ कि कोई एक या दो खबर जीनियस वाले गलत प्रचार कर दिया होगा लेकिन जीनियूज के इस कृत ने निजामुद्दीन में हुएं तबलिगी जमात को क्लीन चिट मिल नहीं सकता. उन्होंने वहाँ और वहाँ के बाद जो कुछ किया है वह सब रेकर्डेड है. उनके किये गए आचरणों में प्रश्नचिह्न लगाने के बजाय दुसरों के गलतियां निकालता कोई वाजिब काम नहीं है. पहले कहियें की तबलिगी जमात ने गलती करी फिर अपना शिकायत रखने का आप हकदार बनते हो.

  8. ये शब्द “जिनियस” नहीं, माफी चाहता हूँ, ये शब्द “जी नियुज” है.

  9. तुम कभि नहीं सुध्रोगे

  10. Zee news k sath aaj tk ko Ben krna zaroori hai. Aur zee news aaj tk walo pr sakt kaarwai hona zaroori hai

  11. Shivvendra Singh Bhadauriya

    यह सच है कि देश में जमाती कोरोना फैलाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं अगर उनमें जरा भी देश के लिए प्रेम होता तो खुद को ओपन करते क्यों देश के कोने कोने मे जाकर कोरोना फैला रहे हैं ये गद्दार आतंकवादी संगठन से जुड़े हुए लोग हैं देश को बर्बाद करना चाहते हैं

  12. Social media par fake video upload karne Aur gali dene walo k khelaf strict action Lena chahiye

  13. Brijesh Kumar Pandey

    Zee news Channail Ke Sudhir Choudhari Pr Deshdroh Ka Mukdma Kayam Hona Brijesh Kumar Pandey (Briju Pandey )-chahiye Sudhir choudhri Farji Khabre Dikha Kr Hindu Muslmano Ke Bich Danga Failana Chahte The Yh Ek Trh Ki Apradhik Sajish Hai Jiski Mai Kade Sbdo Me Ninda Krta Hu Sudhir Chaudhari Ko Aajiwan Karawas Ki Sja Milni Chahiye D.N. A Channail Aur Zee NEws Pr Sakht Pabndi Lgai Jaye Glat Aur Bhramak Khabre Hmesa Desh Ke Logo Ko Galat sochne Ke Liye Mjbur Krta Hai

  14. Zee news Channail Ke Sudhir Choudhari Pr Deshdroh Ka Mukdma Kayam Hona Brijesh Kumar Pandey (Briju Pandey )-chahiye Sudhir choudhri Farji Khabre Dikha Kr Hindu Muslmano Ke Bich Danga Failana Chahte The Yh Ek Trh Ki Apradhik Sajish Hai Jiski Mai Kade Sbdo Me Ninda Krta Hu Sudhir Chaudhari Ko Aajiwan Karawas Ki Sja Galat sochne Ke Liye Mjbur Krta Hai

  15. This channel is more Dangerous from Covud 19… Band this Channel…

  16. is zee news television le ak farzi news chhapi hei..nepal se 50 corona Mariz India vez raha he corona feilane k liye kar k jab ki nepal me 50 to kya 25 vi nahi Corona Mariz..apne desh me hindu Muslim ko vadkake desh barbad kar raha he aba pardeshi k upar chal pade wow..

  17. निरोज पोखरेल

    नेपाल के बारेमे भि तुम ईन्डियन channel झुठ न्युज बोल्ना छोडदो जब कि नेपाल मे एक भि नहि मरा है, सिर्फ ९ लोगो पर positive दिखाया है

  18. Kya india government ye galat news sampresit karne walon ko karbahi karneki takat rakhtahe?

  19. Ye har state m ho raha h Rajasthan m bhi News 18 is tarah ki news dena band nhi kr raha ,aur na hi Rajasthan Patrika n Dainik Bhaskar. Is ki shikayat krni h ,kaha keen.news 18 baar baar jamatiyon ka ghat naam se ek program roz repeat kr raha h

  20. Ye har state m ho raha h Rajasthan m bhi News 18 is tarah ki news dena band nhi kr raha ,aur na hi Rajasthan Patrika n Dainik Bhaskar. Is ki shikayat krni h ,kaha kren.news 18 baar baar jamatiyon ka ghat naam se ek program roz repeat kr raha h

  21. Lincence kharej hona chaie

  22. These type of journalism much more danger than Corona Virus.

  23. fuck indian media

  24. At this juncture nation remember Mahatma Gandhi’s unity.

  25. नेपालसे भि कोरोना वम भेजा गया था। मुम्बईमे बलास्ट हुवा कि नहिहुवा?

  26. Tabligi jamaat k Karan Kya carona tezi. Sey Nahi faila hai;? Zee news n Galat figure bata dee to maafi Maang Lee aur baat Khatam….. Ismein fake news wali to koi baat hee Nahi hai……

  27. Mukh se nikala huwa bat, dhanush se nikala huwa tir kabhi bhi kisi ko nisana lag sakta hai, yaha Bharat barsi me to aandhi bhak ka koi kami nahi hota isliye itna nafarat karke Kyung jhut pe jhut bol raha hai? Media ka matalab dalali karna nahi hota hai, media ka matalab kon sa khabar public ke samne oppinient rakhna hota hai. Sudhir Choudhary ne to desh ke samne jhut ko sahi theharane ke liye desh ka citizen ko marne ka kam kiya hai isliye ye to terrorist hai.

  28. इन न्यूज़ चैनलों के विरुद्ध देशद्रोह का मामला दर्ज क्या नहीं कराया ज सकता है?

  29. I think your news is fake.zee news is a reputed news channel. Everybody knows about it.i have never heard of gulistan news. Why should I believe it.

  30. फर्जी खबर चलाने वाले इक्के, दुक्के चौधरी, गोस्वामी जैसा दलाल को दलाली का फिस जो मिलता है उससे गुजर बसर तो होता है। अपने पहचान भले ही वह एक दलाल के रूप में बनाया होगा।

  31. इन भडुऔ का चैनल सरकार बंद कियो नही कर्ता किसका इन्तजार कर रहा है की फिर से देश मे खबर के जरिये आग लगवाये हिन्दु मुस्लिम मे

  32. Yes! Zee news is very fake channel.

  33. They have already said sorry at the same time

  34. i request of indian gorv. to this channel is baned plz

  35. Kiu bhai… Muslim logo ki burai karne se hi channel kharab ho jayega ? Hindu logo ki jab burai bolta hai tab tum logo ki kharap nehi lagta ? Hindu log to kavi protest nehi karte …. Aap lo log kavi aapna galti mante nehi or kisi galti ka protest vi nehi krte… Sirf aap logo ko apna fayda ki bare me sochte ho….

  36. These channels must be punishrd with time ban and financial penality

  37. most of Indian news channel are spreading false news regarding COVID-19. There are only 9 cases of corona infection in Nepal but they said that “Nepal ne varat pe CORONA failane ke liye kiya bada sajis” ..What does that sajis mean and What is the proof?? .. But we have proof that some of those infected person are those who returned from India. Indian journalism is just a shitt.

  38. पत्रकार का काम किसी भी धर्म या समाज की बुराई करना या किसी समाज को उकसाना नही हैं बल्कि उसका काम व्यवस्था में सुधार और सरकार को आईना दिखाना और राष्ट्र को मजबूत करना है