Breaking News

नोयडा के डूब क्षेत्र में धड़ल्ले से बसाई जा रही हैं अवैध कालोनी, पुलिस और प्रशासन मौन

नोयडा ब्यूरो। गौतमबुद्ध नगर ज़िला प्रशासन की पाबंदी के बावजूद भूमाफिया धड़ल्ले से ज़िले की हिंडन नदी के दोनों तरफ अवैध कालोनी के लिए निजी और सरकारी ज़मीनें खुले आम बेच रहे हैं और निर्माण कार्य चल रहा है।

जबकि ज़िला प्रशासन बार बार नोटिस दे रहा है कि डूब क्षेत्र में निर्माण अवैध है लेकिन भू माफियाओं को किसी का खौफ नही है। इसका कारण स्पष्ट है कि पुलिस का इनको भरपूर सहयोग मिल रहा है।
इस करोड़ो रूपये के अवैध कारोबार में पुलिस और राजस्व विभाग के लोग शामिल हैं। अनपढ़ और गरीब लोग तिनका तिनका जोड़कर एक अदद सर छुपाने के लिये आशियाने की तलाश में घूमते हुए भूमाफियाओं द्वारा छोड़े गए दलालों के चंगुल में फंस जाते हैं और फिर उनके लिए निकलना मुश्किल हो जाता है।
कुछ लोग तोड़ फोड़ के बावजूद वहीं पर पड़े रह जाते हैं तो कुछ लोग अपने पैसे निकालने के लिए कानूनी दाव पेंच में उलझे हुए हैं।
सोरखा गांव के पास नदी के किनारे पुलिस की नाक के नीचे अवैध कालोनी बसाई जा रही है लेकिन पुलिस उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई करने के बजाए उनके बचाव में खड़ी रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.